A Different Kind of School Hindi Summary

A Different Kind of School Hindi Summary  Honeysuckle Chapter 5

इस अध्याय में, लेखक (Author ) मिस बीम के एक विशेष स्कूल (school) का दौरा करता है और अपने अनुभव साझा करता है।

लेखक स्कूल में आता है

जब लेखक स्कूल परिसर में होता है, तो वह देखता है एक लड़की की आँखों पर पट्टी बंधी हुई है और एक छोटा लड़का उसकी सहायता करता है। उसे उस लड़की पर दया आती है।

लेखक ने मिस बीम से बात की

मिस बीम लेखक से मिलती है और उसे बताती है कि यह स्कूल न केवल जोड़-घटाव, और विषयों को सिखाता है बल्कि विचारशीलता भी सिखाता है। वह लेखक को खिड़की पर ले जाती है और लेखक से पूछती है, आप क्या देखते हैं?

लेखक को दया आती है

लेखक का कहना है कि मैं मैदान में बहुत सारे खुश  बच्चों को खेलता देखता हूं, लेकिन मुझे लगता है कि ये बच्चे इतने स्वस्थ नहीं हैं – “मैं जिस लड़की से कैंपस में मिला था वह नेत्रहीन है, और अब मैं एक ही विकलांग (handicapped ) के साथ दो और देख रहा हूं, वह  लड़की अन्य बच्चो  के साथ  बैसाखी के साथ है ”।

मिस बीम हंसती है

मिस बीम कहती हैं कि नहीं, वो लड़की विकलांग  नहीं हैं, वे सिर्फ अपनी निर्धारित भूमिकाएं कर रही हैं। हम उन्हें सिखाते हैं कि अगर किसी को ऐसा दुर्भाग्य  मिला है तो यह कितना मुश्किल है! इसके द्वारा, वे विकलांग व्यक्ति की देखभाल करना सीखते हैं। प्रत्येक सत्र (सेमेस्टर) में प्रत्येक बच्चे का एक अंधा दिन, एक बहरा दिन, एक गूंगा दिन और एक घायल दिन महसूस करना होता है।

यदि कोई अंधा है तो अन्य बच्चे उसकी मदद करते हैं यदि कोई बैसाखी के साथ है तो अन्य बच्चे उसे चलने में सहायता करते हैं।

मिस बीम लेखक को एक आखों पर पट्टी बंधी लड़की के पास ले जाती है और लड़की से कहती है “यहाँ एक सज्जन आपसे बात करने आते हैं”।

पट्टी वाली  लड़की और लेखक

लेखक लड़की से पूछता है “तुम झाँकती नहीं हो”। लड़की कहती है अरे नहीं! यह धोखा होगा। वह बताना शुरू कर देती है कि यह कितना भयानक लगता है कि वह अंधी है और उसे आस-पास की वस्तुओं से हादसे हो जाने का डर है। वह लेखक को टहलाने के लिए कहती है।

लड़की का लेखक के साथ चलना

लेखक वही बताता है जो वह देखता है। वह लड़की से कहता है कि मिस बीम एक लंबी लड़की के साथ है। पट्टी वाली लड़की उससे लड़की कपड़े के रंग के बारे में पूछते हैं। वह निष्कर्ष निकालती है कि वह हेड गर्ल मिल्ली है।

लेखक का कहना है कि सामने गुलाब के पेड़ को छांटने वाला एक बूढ़ा व्यक्ति है। लड़की जवाब देती है कि उसे माली होना चाहिए।

वह बताता है कि घुंघराले लाल बालों वाली एक लड़की बैसाखी के साथ हमारी ओर आ रही है। लड़की जवाब देती है। वह अनीता है।

इस तरह उन्होंने चलते समय बात की। लेखक पहले से अधिक विचारशील था।

कहानी से शिखा

ये कहानी हमें अपंग और विकलांग लोगो से अच्छे से पेश होने की प्रेरणा देती है.

See also:

A Different Kind of School English Summary 

Other chapters:

Fair Play Summary.

A Game by Chance Summary.

A Different Kind of School Hindi Summary 

Ref: Honeysuckle Chapter 5.

 

Leave a Comment